अगस्त में निर्यात में 1.62 प्रतिशत बढ़ा, व्यापार घाटा दोगुना से अधिक होकर 27.98 अरब डॉलर पर


 












भाषा / नई दिल्ली 09 14, 2022






भारत का वस्तुओं का निर्यात अगस्त में मामूली रूप से 1.62 प्रतिशत बढ़कर 33.92 अरब डॉलर हो गया। इस दौरान व्यापार घाटा दोगुने से अधिक होकर 27.98 अरब डॉलर पर पहुंच गया। वाणिज्य मंत्रालय ने बुधवार को जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी। 

अगस्त, 2021 में व्यापार घाटा 11.71 अरब डॉलर था। इस साल अगस्त में आयात 37.28 प्रतिशत बढ़कर 61.9 अरब डॉलर रहा। अप्रैल-अगस्त 2022-23 के दौरान निर्यात में 17.68 प्रतिशत की वृद्धि हुई और यह बढ़कर 193.51 अरब डॉलर रहा। चालू वित्त वर्ष के पहले पांच महीनों में आयात 45.74 प्रतिशत बढ़कर 318 अरब डॉलर के स्तर पर पहुंच गया। चालू वित्त वर्ष में अप्रैल-अगस्त के दौरान व्यापार घाटा बढ़कर 124.52 अरब डॉलर हो गया, जो पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 53.78 अरब डॉलर था। 

आंकड़ों के मुताबिक, इस साल अगस्त में कच्चे तेल का आयात 87.44 प्रतिशत बढ़कर 17.7 अरब डॉलर पर पहुंच गया। हालांकि, सोने का आयात लगभग 47 प्रतिशत घटकर 3.57 अरब डॉलर रहा। समीक्षाधीन महीने में चांदी का आयात बढ़कर 68.43 करोड़ डॉलर हो गया, जो पिछले साल इसी महीने में 1.54 करोड़ डॉलर था।

अगस्त में कोयला, कोक और ब्रिकेट्स (133.64 प्रतिशत बढ़कर 4.5 अरब डॉलर), रसायन (43 प्रतिशत बढ़कर लगभग तीन अरब डॉलर) और वनस्पति तेल (41.55 प्रतिशत बढ़कर लगभग दो अरब डॉलर) जैसे प्रमुख जिंस समूहों के आयात मूल्य में वृद्धि हुई। इसके अलावा, अगस्त में सकारात्मक वृद्धि दर्ज करने वाले निर्यात उत्पादों में इलेक्ट्रॉनिक सामान, चावल, तेल भोजन, चाय, कॉफी और रसायन शामिल हैं। 

पेट्रोलियम उत्पादों का निर्यात 22.76 प्रतिशत बढ़कर 5.71 अरब डॉलर हो गया। इसी तरह रसायन और दवा निर्यात क्रमशः 13.47 प्रतिशत और 6.76 प्रतिशत बढ़कर 2.53 अरब डॉलर और 2.14 अरब डॉलर रहा। अगस्त में नकारात्मक वृद्धि दर्ज करने वाले क्षेत्रों में इंजीनियरिंग, रत्न और आभूषण, तैयार वस्त्र और प्लास्टिक शामिल हैं। 

Keyword: व्यापार घाटा, आयात, डॉलर, वित्त वर्ष, पेट्रोलियम, Inflation, import, extort, financial year,


























Source link

Leave a Reply