पंख फैलाएगी एयर इंडिया


घरेलू बाजार में 30 फीसदी बाजार हिस्सेदारी हासिल करेगी एयर इंडिया
अनीश फडणीस / मुंबई September 15, 2022






प्रमुख विमानन कंपनी एयर इंडिया अपने बेड़े में नए विमानों को शामिल करते हुए और प्रौद्योगिकी एवं ग्राहक सेवा में सुधार पर निवेश कर रही है। विमानन कंपनी ने आज ‘विहान.एआई’ नाम से अपनी पुनरुद्धार योजना की घोषणा की। इसके तहत उसने घरेलू बाजार में अपनी हिस्सेदारी को पांच साल में तीन गुना बढ़ाकर 30 फीसदी करने की योजना बनाई है। 

जनवरी के आखिर में एयर इंडिया के स्वामित्व में बदलाव हुआ था। विमान कंपनी की कमान संभालने वाला टाटा समूह पहले ही 30 विमानों के पट्टे और बंद पड़े विमानों के जीर्णोद्धार की घोषणा कर चुका है। यह एयरबस और बोइंग के साथ भी विमानों के बड़े ऑर्डर पर बातचीत कर रहा है। विहान डॉट एआई के तहत एयर इंडिया ने नेटवर्क विकास, ग्राहक पेशकश में सुधार, समय की पाबंदी में बेहतरी तथा नवाचार और निरंतरता पर ध्यान केंद्रित करते हुए एक रूपरेखा तैयार की है।

विमान कंपनी ने घोषणा की है कि अगले पांच साल में एयर इंडिया अपनी घरेलू बाजार हिस्सेदारी को कम से कम 30 फीसदी तक बढ़ाने का प्रयास करेगी जबकि अंतरराष्ट्रीय मार्गों पर बाजार हिस्सेदारी में मौजूदा स्तर के मुकाबले काफी विस्तार किया जाएगा। इस योजना का उद्देश्य एयर इंडिया को निरंतर विकास, लाभ और बाजार की अगुआई के मार्ग पर ले जाना है।

एयर इंडिया ने जून में 8,14,000 घरेलू यात्रियों को यात्रा कराई और 8.4 फीसदी की बाजार हिस्सेदारी दर्ज की। बाजार की अग्रणी विमानन कंपनी इंडिगो की बाजार हिस्सेदारी 58.8 फीसदी थी। टाटा समूह की दो अन्य विमान कंपनियों- एयरएशिया इंडिया और विस्तारा की बाजार हिस्सेदारी क्रमशः 4.6 फीसदी और 10.4 फीसदी थी।

टाटा समूह को एयरएशिया इंडिया का एयर इंडिया में विलय करने के लिए भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) की मंजूरी पहले ही मिल चुकी है। टाटा समूह और संयुक्त उद्यम की साझेदार सिंगापुर एयरलाइंस विस्तारा के लिए कार्ययोजना पर विचार-विमर्श कर रही हैं लेकिन अभी तक यह तय नहीं किया गया है कि इसका एयर इंडिया के साथ विलय किया जाए या अलग परिचालन जारी रखा जाए।

सिंगापुर एयरलाइंस के प्रवक्ता ने कहा, ‘हम ऐसी किसी भी गोपनीय चर्चा पर टिप्पणी नहीं करते हैं जो हमारे साझेदारों के साथ हो सकती है या नहीं भी हो 


एयर इंडिया के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्याधिकारी कैंपबेल विल्सन ने कहा, ‘बदलाव की प्रक्रिया पहले ही शुरू हो चुकी है। रीफर्बिशिंग केबिन, सर्विसेबल सीट, उड़ान के दौरान मनोरंजन प्रणाली आदि के लिए काम जारी है। हम समय पर उड़ान सुनिश्चित करने के लिए रखरखाव एवं उड़ान सूची भी दुरुस्त कर रहे हैं। हम अपने बड़े का विस्तार भी कर रह हैं और उसमें चौड़ी बॉडी एवं पतली बॉडी वाले विमानों को शामिल किया जा रहा है ताकि नेटवर्क की विभिन्न जरूरतों को पूरा किया जा सके।’

विमानन कंपनी ने कहा कि उसने एक रूपांतरण योजना तैयार की है और उस पर कर्मचारियों से राय ली जा रही है। विमानन कंपनी बेहतरीन ग्राहक सेवा, शानदार परिचालन, उद्योग की बेहतरीन प्रतिभा, उद्योग में अग्रणी स्थिति हासिल करने, वाणिज्यिक तौर पर किफायत एवं लाभप्रदता पर ध्यान केंद्रित करेगी।



Source link

Leave a Reply